गुरुवार, मई 19, 2011

जब मैंने कहा था कि मैं तुम्हें चाहता हूँ -- कुछ प्रेम कविताएँ

पीच ट्रीज़ इन ब्लोस्सम, विन्सेंट वान गोग
Peach Trees In Blossom, Vincent Van Gogh

तुम्हारे लिए मैं अलग-ही शब्द लिखना चाहता हूँ 
एक नई भाषा गढ़ना चाहता हूँ सिर्फ तुम्हारे लिए
जो तुम्हारे बदन को समा ले
और मेरे प्यार को.

                          ---

बहुत दूर चला जाना चाहता हूँ मैं शब्दकोष से 
और अपने होंठ पीछे छोड़ जाना चाहता हूँ. 
इस मुंह से तंग आ गया हूँ मैं, 
अब कोई दूसरा मुंह चाहता हूँ. 
ऐसा जो कभी चेरी का पेड़ बन जाए, 
कभी माचिस की डिबिया. 
जिस में से शब्द ऐसे निकलें 
जैसे पानी में से जलपरियाँ,
जैसे जादूगर की पिटारी में से सफ़ेद कबूतर. 

                         ---

तुम्हारे लिए 
एक अनूठा किताबघर बनाना चाहता हूँ. 
जिस में मैं रखूँगा 
बारिश की रिम-झिम,
चाँद की मिट्टी,
घने काले बादलों की उदासी,
पतझड़ के पहियों के नीचे
दबे पत्तों का दर्द.

-- निज़ार क़ब्बानी 

  निज़ार क़ब्बानी ( Nizar Kabaani )सिरिया से हैं व अरबी भाषा के कवियों में उनका विशिष्ट स्थान है. उनकी सीधी सहज कविताएँ अधिकतर प्यार के बारे में हैं. अरबी दुनिया में नारी का स्थान क्या है और क्या होना चाहिए, इस विषय पर भी लिखा है उन्होंने. साथ ही अरबी राष्ट्रवाद भी उनकी कविताओं में खूब झलकता है. जब उनसे पूछा गया कि क्या वे क्रांतिकारी हैं, उन्होंने ने कहा था -- अरबी दुनिया में प्यार नज़रबंद है, मैं उसे आज़ाद करना चाहता हूँ. उन्होंने 16 कि उम्र से कविताएँ लिखनी शुरू कर दी थी, व उनके 34 कविता संग्रह छप चुके हैं. उनकी कविताओं को कई प्रसिद्द अरबी गायकों ने गया है, जिन में मिस्र की बेहतरीन गायिका उम्म कुल्थुम भी हैं, जिनके गीत सुनने के लिए लोग उमड़ पड़ते थे.
इन कविताओं का मूल अरबी से अंग्रेजी में अनुवाद लेना जायुसी ने किया है.
इन कविताओं का हिंदी में अनुवाद  -- रीनू तलवाड़ 

6 टिप्‍पणियां:

  1. Love the first four line...say it all what an aspiration. Love it...the only way to love is make it stand apart from all else.

    उत्तर देंहटाएं
  2. to love truely is to create a world of your love apart from all else. The first four lines say it all, wonderful depiction of a state of being. The rest of the lines define its being. When the world of love unfurls it surprises us as well, creating a new us with newness in being and revealing marvels magically authentically to us.

    प्यार करने के लिए सच में अपने प्यार की एक दुनिया के अलावा बाकी सब से बना है.पहले चार लाइनें यह सब है, होने के एक राज्य का अद्भुत चित्रण कहते हैं.लाइनों के आराम अपनी किया जा रहा परिभाषित. जब प्यार की दुनिया में यह फहराने आश्चर्य हमें के रूप में अच्छी तरह से, नयापन साथ जा रहा है और चमत्कार का खुलासा हमारे लिए जादुई प्रमाण में एक हमें नए का निर्माण.

    उत्तर देंहटाएं
  3. Thank you Reenuji for posting this awesome perspective on one in love and how love creates it own reality changing the one around.

    उत्तर देंहटाएं
  4. वाह! मज़ा आ गया... एक लहर की तरह बहा ले जाते हैं शब्द...

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत देर से पहुँच सका यहाँ पर।
    सुन्दर।
    निज़ार की कवितायें मेरे ब्लॉग पर भीं , फुरसत मिले मन करे तो आयें एक बार।

    उत्तर देंहटाएं