शुक्रवार, जुलाई 27, 2012

महान व्यक्तियों से बातचीत करना

क्लाक, मार्क शगाल
Clock, Marc Chagall




महान व्यक्तियों से बातचीत करना
पहनकर देखना उनकी आँखों की पट्टियों को;
किताबों से पत्राचार करना
उन्हें दोबारा लिख कर;
सम्पादन करना पवित्र आदेश्पत्रों का,
और मध्य रात्रि के समय
घड़ी से बातें करना 
खटखटा कर दीवार पर 
ब्रह्माण्ड के एकान्त कारावास में.







-- वेरा पाव्लोवा 




 वेरा पाव्लोवा ( Vera Pavlova ) रूस की सबसे प्रसिद्द समकालीन कवयित्री हैं. उनका जन्म मॉस्कोमें हुआ था. उन्होंने संगीत की शिक्षा ग्रहण की व संगीत के इतिहास विषय में विशेषज्ञता प्राप्त की. कुछ समय बाद ही उनकी कविताएँ प्रकाशित हुई और उन्होंने अपने साहित्यिक जीवन का आरम्भ किया. उनके 14 कविता-संग्रह प्रकाशित हो चुके हैं व रूस में उनकी किताबें खूब बिकती हैं. उन्होंने चार ओपेरा लिबेरेतोज़ के लिए संगीत लिखा है व कुछ बोल भी. उनकी कविताएँ 18भाषाओँ में अनूदित की गयी हैं. यह कविता उनके अंग्रेजी में अनूदित संकलन 'देयर इज समथिंग टू डिज़ायर' से है.
इस कविता का मूल रशियन से अंग्रेजी में अनुवाद स्टीवन सेमूर ने किया है.
इस कविता का हिंदी में अनुवाद -- रीनू तलवाड़

2 टिप्‍पणियां:

  1. लेखण बेहद एकाकी कर देने की प्रक्रिया है.लेखक सिर्फ विचारों के साथ रहता है.

    उत्तर देंहटाएं
  2. लेखन बेहद एकाकी कर देने की प्रक्रिया है.लेखक सिर्फ विचारों के साथ रहता है.

    उत्तर देंहटाएं