गुरुवार, अगस्त 30, 2012

भाषा

स्ट्रीट लाईट, जिअक्मो बाल्ला
Street Light, Giacomo Balla


कुछ शब्द हैं जिन्हें हम अभी जानते हैं जो हम कभी दोबारा इस्तेमाल नहीं करेंगे, और जिन्हें हम कभी भूल नहीं पायेंगे. हमें उनकी आवश्यकता है. चित्र के पिछली तरफ की तरह. हमारी मज्जा के तरह, और हमारी शिराओं में बहते रंग की तरह. हम उन पर रोशनी डालते हैं अपनी नींद की लालटेन से, सुनिश्चित करने के लिए, और वे वहाँ होते हैं, क़यामत के दिन के लिए अभी से काँपते हुए. वे हमारे साथ ही दफनायें जायेंगे, और ऊपर उठ जायेंगे बाकी सब के साथ.


-- डब्ल्यू एस मर्विन 



W.S. Merwin डब्ल्यू एस मर्विन ( W S Merwin )अमरीकी कवि हैं व इन दिनों अमरीका के पोएट लॉरीअट भी हैं.उनकी कविताओं, अनुवादों व लेखों के 30 से अधिक संकलन प्रकाशित हो चुके हैं .उन्होंने दूसरी भाषाओँ के प्रमुख कवियों के संकलन, अंग्रेजी में खूब अनूदित किये हैं, व अपनी कविताओं का भी स्वयं ही दूसरी भाषाओँ में अनुवाद किया है.अपनी कविताओं के लिए उन्हें अन्य सम्मानों सहित पुलित्ज़र प्राइज़ भी मिल चुका है.वे अधिकतर बिना विराम आदि चिन्हों के मुक्त छंद में कविता लिखते हैं.यह कविता उनके संकलन 'द बुक ऑफ़ फेब्ल्ज़' से है.

इस कविता का मूल अंग्रेजी से हिंदी में अनुवाद -- रीनू तलवाड़

1 टिप्पणी:

  1. शब्दों को क़यामत के दिन तक साथ रहने का महत्व देने वाली शब्दातीत गद्य कविता.

    उत्तर देंहटाएं