गुरुवार, सितंबर 27, 2012

समय

क्लाक विद ब्लू विंग, मार्क शगाल
Clock with Blue Wing, Marc Chagall
चिली में, सैंटियागो में, 
दिन होते हैं अंतहीन रूप से लम्बे:
एक दिन में अनेक अनंतताएँ.

जैसे खच्चरों पर यात्रा करते
समुद्री शैवाल के बेचने वाले:
तुम जम्हाई लेते हो -- फिर जम्हाई लेते हो.

फिर भी सप्ताह छोटे हैं
महीने पास से दौड़ते निकल जाते हैं
और वर्षों के तो पंख हैं.



--  नीकानोर पार्रा




 नीकानोर पार्रा ( Nicanor Parra ) न सिर्फ चिली के सब से लोकप्रिय कवि माने जाते हैं, बल्कि पूरे लातिनी अमरीका में उनका प्रभाव है, और स्पेनिश के महत्वपूर्ण कवियों में उन्हें गिना जाता है. वे स्वयं को विरोधी कवि ( antipoet ) कहते हैं क्योंकि वे कविता की सामान्य परम्पराओं का विरोध करते हैं. अक्सर कविता-पाठ के बाद वे कहा करते थे  -- मैं अपना कहा वापिस लेता हूँ. लातिन अमरीकी साहित्य की परिष्कृत भाषा छोड़ उन्होंने एक ठेठ  स्वर अपनाया. उनका पहला कविता संकलन "पोएम्ज़ एंड ऐंटीपोएम्ज़ " न केवल स्पेनिश कविता का प्रभावी संग्रह है बल्कि लातिन अमरीकी साहित्य का महत्त्वपूर्ण मीलपत्थर भी है. उनकी कविताएँ ऐलन गिन्ज़बर्ग जैसे अमरीकी बीट कवियों की प्रेरणा बनी. वे कई बार नोबेल प्राइज़ के लिए नामित किए गए हैं. 2011 में उन्हें स्पेनिश भाषा एवं साहित्य का उच्चतम पुरुस्कार 'सेर्वौंत प्राइज़' प्राप्त हुआ.
इस कविता का मूल स्पेनिश से अंग्रेजी में अनुवाद मिलर विलियम्ज़ ने किया है.
इस कविता का हिंदी में अनुवाद -- रीनू तलवाड़

3 टिप्‍पणियां:

  1. समय हो या स्थान ..हम कहीं भी हों ...हम ढपोरशंख हैं उनके सामने अपने शंख बजाते हुए ... om globalaaya namah .

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
    आपकी इस उत्कृष्ट प्रविष्टी की चर्चा कल रविवार (30-09-2012) के चर्चा मंच पर भी की गई है!
    सूचनार्थ!

    उत्तर देंहटाएं
  3. बढ़िया प्रस्तुति |
    इस समूहिक ब्लॉग में पधारें और इस से जुड़ें |
    काव्य का संसार

    उत्तर देंहटाएं